Ivermectin 12 mg Tablet Uses in Hindi – आइवरमेक्टिन टैबलेट की पूरी जानकारी

Ivermectin 12 mg Tablet Uses in Hindi – इस टैबलेट का इस्तेमाल पैरासाइटिक राउंडवॉर्म (जैसे – खुजली और मुहांसे) इंफेक्शन के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल करके शरीर के इन्फेक्शन को ठीक किया जा सकता है। आप लोगों को बता दें कि यदि किसी रोगी की इम्यूनिटी कमजोर है तो उसको इस टैबलेट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके इस्तेमाल से उसको खतरा हो सकता है। यह खतरा इसलिए क्योंकि यह आइवरमेक्टिन की क्षेणी में आता है जिसको एंटीपैरासिटिक कहते है और इसका इस्तेमाल परजीवियों को मारने या खत्म करने के लिए किया जाता है। यह टैबलेट मेडिकल स्टोर से 3mg/6mg/12mg के रूप में आती है।

"<yoastmark

Ivermectin 12 mg Tablet Uses in Hindi – आइवरमेक्टिन टैबलेट का उपयोग

जैसा कि हमने आपको बताया, इसका इस्तेमाल खुजली और मुहांसे को ठीक करने के लिए किया जाता है लेकिन इसके आलावा इस टैबलेट का उपयोग अन्य बीमारियों को ठीक करने के लिए भी किया जाता है। आइये जानते है इसके बारे में…

  • यदि किसी व्यक्ति को पेट के कीड़े की परेशानी है और उसके पेट में खुजली होती है तो इस बीमारी को हल करने के लिए इस टैबलेट का उपयोग किया जाता है।
  • यदि किसी व्यक्ति के शरीर पर मच्छर काटने के कारण सूजन या खुजली होती है तो इसके लिए भी Ivermectin Tablet Uses In Hindi का इस्तेमाल किया जाता है।
  • बालों में होने वाले जुंओं को ख़त्म करने के लिए भी इस टैबलेट का उपयोग किया जाता है।
  • पेट दर्द होना और दस्त लगने पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • भूख कम लगने पर, कुपोषण का शिकार होने पर और याद करने की क्षमता को बढ़ाने के लिए भी इस टैबलेट का उपयोग किया जाता है।

Side Effects of Ivermectin in Hindi – आइवरमेक्टिन टैबलेट के दुष्प्रभाव

  • इस टैबलेट के सेवन से लाल आँखे (Red Eye) हो सकती है और स्किन भी Dry हो सकती है।
  • इसके आलावा रोगी को बुखार और मांसपेशियों में दर्द भी हो सकता है।
  • चेहरे या होठ पर सूजन का आ जाना
  • लम्बे समय तक प्रयोग करने के कारण WBC ( White Blood Cell ) में कमी आ जाना।

यह इस टैबलेट से होने वाले साइड इफ़ेक्ट है। यदि आप इस टैबलेट का इस्तेमाल करना चाहते है तो एक बार इन साइड इफ़ेक्ट के बारे में जरूर सोचे।

 सावधानियां –

  • यदि किसी व्यक्ति को लिवर या किडनी से जुड़ी परेशानी है तो उसको यह टैबलेट नहीं लेनी चाहिए।
  • इसके आलावा यदि किसी रोगी को कैंसर की परेशानी है तो उसको भी इस टैबलेट को  नहीं लेना चाहिए।
  • यदि किसी को HIV या AIDS की परेशानी है तो भी उसको यह टैबलेट नहीं लेनी चाहिए।
  • कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों को भी Ivermectin गोली का उपयोग नहीं करना चाहिए।
  • यदि किसी बच्चे की उम्र 5 साल से कम है या फिर उसका वजन 15 किलोग्राम से कम है तो बच्चे को इस टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।

रोगी को हमेशा ऊपर दी हुई सावधानियों से बचे रहना चाहिए। यदि आपको ऊपर किसी भी तरह की कोई परेशानी है तो आप एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें। डॉक्टर आपको इसी तरह की दूसरी टैबलेट या गोली लिखकर दे देगा जो आपके लिए असरदार और फायदेमंद होगी।

Ivermectin Dosage –

यदि आप इस टैबलेट को लेना चाहते हो तो एक बार आप डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें। क्योंकि डॉक्टर मरीज की उम्र, हाइट और बीमारी के अनुसार इसकी डोज देता है। अगर इसकी Common Dosage की बात करे तो 3 मिलीग्राम से 12 मिलीग्राम Ivermectin है और इस टैबलेट को हफ्ते में एक बार लिया जाता है।

यदि आपको इस टैबलेट को लेने से फायदा होता है तो आपको यह टैबलेट द्वारा लेने की जरूरत नहीं है। यदि आपको 1 हफ्ते में इस टैबलेट का कोई असर नहीं दिखता है तो अगले हफ्ते आप इसे द्वारा ले सकते हो। यदि किसी मरीज को इस टैबलेट की ज्यादा जरूरत होती है तो उसको 2 या 3 दिन, यह टैबलेट लगातार दी जाती है। इस टैबलेट को खाने से 1 घंटे पहले या फिर खाना खाने के 2 घंटे बाद दिया जाता है।

हम आपको एक ग्राफ दिखाने जा रहे है जिसके अनुसार आप मरीज को यह टैबलेट दे सकते हो।

  • 15kg – 25kg = 3 mg
  • 26kg – 35kg =6 mg
  • 36kg – 50 kg =9 mg
  • 51kg – 65kg =15 mg
  • 80 kg + = 0.2 mg/kg

आप वजन के अनुसार मरीज को Ivermectin की डोज दे सकते हो।

यह भी पढ़ें –

Conclusion –

दोस्तों, आज की इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि Ivermectin Tablet क्या है और Ivermectin 12 mg Tablet Uses in Hindi के बारे में, इसके आलावा हमने आपको इस Medicine/Tablet  के बारे में कई तरह की जानकारियां दी। हमारी इस पोस्ट के बारे में आपकी क्या राय है। हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Disclaimer – कृपया ध्यान दें, इस दवाई को लेने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें अन्यथा हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

Leave a Comment